सुकन्या समृद्धि योजना | [2022] Sukanya Samriddhi Yojana In Hindi

सुकन्या समृद्धि योजना क्या है, सुकन्या समृद्धि योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज, सुकन्या समृद्धि योजना के फायदे और नुकसान, सुकन्या समृद्धि योजना के नियम व शर्तें, sukanya samriddhi yojana calculator.

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको sukanya samriddhi yojana in hindi के बारे में बताने जा रहे हैं, सुकन्या समृद्धि योजना मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई एक छोटी बचत योजना है। इसे ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत शुरू किया गया था। यह योजना बेटियों की शिक्षा और उनकी शादी के लिए धन जुटाने में मदद करती है।

अगर आपके घर में छोटी बच्ची है, और आप उसकी पढ़ाई और शादी के विषय में सोचकर चिंतित हैं, तो आप केंद्र सरकार के सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश कर सकते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना 10 साल से कम उम्र की बेटी की उच्च शिक्षा और शादी की बचत के लिए निवेश करने की एक अच्छी निवेश योजना है। निवेश के इस बेहतरीन विकल्प में पैसे लगाने से आपको इनकम टैक्स बचाने में मदद मिलती है। यह एक ऐसी बेहतरीन योजना है जिससे आप कम पैसों में ही ज्यादा मुनाफा ले सकते हैं।

sukanya samriddhi yojana in hindi

Page Contents

सुकन्या समृद्धि योजना (ssy) क्या है – Sukanya Samriddhi Yojana In Hindi

सुकन्या समृद्धि योजना बेटियों के लिए केंद्र सरकार की एक छोटी बचत योजना है जिसे बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ स्कीम के तहत लांच किया गया था छोटी बचत स्कीम में सुकन्या सबसे बेहतर ब्याज दर वाली योजना है।

योजना का नामसुकन्या समृद्धि योजना
योजना की शुरुआत22 जनवरी 2015
खाता खुलवाने की आयु0 से 10 साल
खाते में जमा करने की न्यूनतम राशि₹1000 पर महीने
खाते में जमा करने की अधिकतम राशि ₹1.50 लाख (1 साल )
लाभार्थीकन्या
कौन खुलवा सकता है यह खाताकन्या के अभिभावक या माता-पिता
खाते की अवधि 21 साल
खोले जाने वाले खातों की संख्यादो (तीन खाते जब लड़कियां जुड़वा हो)
ब्याज दर7.6%
ऑफिशियल वेबसाइटhttps://www.india.gov.in/

सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत (Sukanya Samriddhi Yojana Launched) –

इसका शुभारंभ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 22 जनवरी 2015 को किया था इससे छोटी-छोटी बचत के जरिए बच्चियों की शादी या उच्च शिक्षा के लिए सुकन्या समृद्धि योजना में रकम जमा कर सकते हैं, सरकार इस योजना के तहत जमा धनराशि पर अन्य बचत योजनाओं से बेहतर ब्याज देती है इस योजना के अंतर्गत बेटियों के लिए सिर्फ 250 रुपए मे बचत खाता खोला जाता है जो सुकन्या समृद्धि खाता भी कहलाता है यह खाता 10 साल से कम आयु की कन्याओं के लिए पोस्ट ऑफिस या बैंक द्वारा खोला जाता है।

पीएम सुकन्या समृद्धि योजना 2022 के लाभ (PM Sukanya Samriddhi Yojana Benefits) –

  • इस योजना में ₹250 में अकाउंट खोला जाता है
  • 10 साल से कम उम्र की बेटी का अकाउंट इस योजना के तहत खुलवाया जा सकता है
  • बेटी की उच्च शिक्षा के लिए भी इस योजना से 50 % की रकम निकाली जा सकती है।
  • इस योजना के तहत मिलने वाला रिटर्न्स पैसा टैक्स फ्री होता है।
  • इस योजना में वित्त वर्ष के दौरान अधिकतम ₹1.500000 जमा किए जा सकते हैं
  • योजना देश की सभी बेटियों को अपनी शिक्षा और शादी में मदद प्रदान करती है।
  • इस योजना में जमा राशि पर 7.6% ब्याज मिलता है
  • यह योजना किसी भी बैंक या डाकघर से शुरू की जा सकती है
  • यह योजना अभिभावक माता-पिता और लड़की तीनों के लिए फायदेमंद है, क्योंकि यह तीनों की मदद करता है।
  • अभिभावकों के लिए केवल दो लड़कियों के लिए इस योजना के तहत खाता खोलने की अनुमति है।
  • इस योजना में माता-पिता अपनी बच्ची के लिए बचत खाता खोल सकते हैं जब तक कि उसकी आयु 10 वर्ष नहीं हो जाती

सुकन्या समृद्धि योजना इंटरेस्ट रेट 2022 (Sukanya Samriddhi Yojna Interest Rate 2022) –

फाइनेंशियल ईयर 2020 2021 के लिए सुकन्या समृद्धि योजना की मौजूदा इंटरेस्ट रेट 7.6% है इससे सालाना कंपाउंड किया जाता है आइए इंटेक्स दरों पर वर्ष के अनुसार नजर डालें

सुकन्या समृद्धि योजना इंटरेस्ट रेट

(SSY) अकाउंट खोलने के लिए जरूरी दस्तावेज (Documents Required To Open SSY Account) –

  • SSY खाता खोलने का फॉर्म
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र।
  • खाता खोलते समय जमाकर्ता का पहचान प्रमाण और पते का प्रमाण भी जमा करना होता है।
  • यदि एक ही समय में एक से अधिक बच्चे पैदा होते हैं, तो एक चिकित्सा प्रमाण पत्र भी जमा करना आवश्यक है।
  • इसके अलावा बैंक या पोस्ट ऑफिस के अनुरोध पर कुछ अन्य दस्तावेज भी जमा करने पड़ सकते हैं।

SSY में खाता खुलवाने के लिए नियम व शर्तें –

  • कोई भी व्यक्ति यदि वह भारत का नागरिक है तो वह अपनी बेटी के लिए सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट खुलवा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना के नियम के तहत एक बच्ची के लिए केवल एक ही खाता खोला जा सकता है।
  • एक परिवार से केवल 2 कन्याओं को ही इस योजना का लाभ मिलता है।
  • इस अकाउंट में 15 साल में निवेश किया जा सकता है।
  • यदि बच्चियां जुड़वा है या ट्रिपल है तो इस स्थिति में तीन खाते खोले जा सकते हैं इसके लिए आपको तीनों बच्चियों के चिकित्सा प्रमाण देने होंगे और अभिभावक का पहचान पत्र भी देना होता है।
  • इस योजना के तहत कन्या की आयु सीमा 10 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • इस योजना में तय राशि समय पर जमा करना बहुत ही अनिवार्य है अन्यथा पेनल्टी के दावेदार हो सकते हैं।
  • इस योजना में 21 वर्ष पूर्ण होने के पश्चात पैसा मिलता है, मगर बेटी की पढ़ाई या अन्य आवश्यकताओं के लिए 18 वर्ष की उम्र में भी आधी रकम निकाली जा सकती है।
  • इस योजना में वार्षिक जमा की न्यूनतम राशि ₹250 है जबकि अधिकतम राशि 1.5 लाख वार्षिक जमा की जा सकती है।

यह भी पढ़े –

अधिकतम और न्यूनतम राशि जमा करने के नियम और शर्तें –

  • इस योजना के तहत कम से कम ₹250 में खाता खोला जा सकता है, योजना के तहत हर साल लाभार्थी को 250 रुपये निवेश करना होगा।
  • यदि खाताधारक द्वारा न्यूनतम ₹250 प्रति वर्ष का निवेश नहीं किया जाता है ऐसी स्थिति में खाता डिफॉल्ट हो जाएगा अगर अकाउंट डिफॉल्ट हो गया है तो ऐसे में कम से कम ₹250 की रकम और ₹50 पेनल्टी लेकर अकाउंट को रिवाइज किया जा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना में अधिकतम ₹1.5 लाख का निवेश किया जा सकता है।
  • इस योजना के तहत खाता खोलने की तारीख से 15 साल तक निवेश किया जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना में कितना पैसा देना होगा और कब तक ?

  • SSY के तहत ₹250 प्रतिमाह देने का प्रावधान है
  • इस योजना के तहत बैंक में खाता खुलवाने के बाद 14 साल तक निवेश करना अनिवार्य माना जाता है।

सुकन्या समृद्धि खाते से पैसे निकालने के नियम और शर्तें –

  • निकासी की स्थिति: सुकन्या समृद्धि योजना खाते से पिछले वित्तीय वर्ष के अंत में उपलब्ध शेष राशि का अधिकतम 50% तक निकाला जा सकता है। यह निकासी बालिकाओं की शिक्षा के लिए की जा सकती है।
  • खाते से निकासी कब की जा सकती है: बालिका की आयु 18 वर्ष पूर्ण होने पर या उसकी दसवीं कक्षा पास करने के बाद निकासी की जा सकती है।
  • निकासी का तरीका: निकासी एक बार में या किश्तों में की जा सकती है।

सुकन्या समृद्धि योजना में आवेदन कैसे करें (How to apply for Sukanya Samriddhi Yojana) –

ऑनलाइन आवेदन कैसे करें (How to Apply Online) –

  • सबसे पहले लाभार्थी को 28 बैंकों में से किसी एक बैंक की वेबसाइट पर जाना होगा जो कि RBI द्वारा पंजीकृत हो।
  • वेबसाइट पर जाकर आपको सुकन्या समृद्धि योजना सर्च करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने सुकन्या समृद्धि योजना का फॉर्म खुल जाएगा।
  • इस फॉर्म में पूछे गए विकल्पों के अनुसार आपको अपने और अपनी बेटी की सारी जानकारी देनी होगी जैसे ही एड्रेस, पहचान पत्र, बेटी का जन्म प्रमाण पत्र, आधार कार्ड आदि।
  • अब आपको अपना फॉर्म सबमिट करना होगा।
  • आपको पहली राशि अपनी कन्या के अकाउंट में जमा करनी है।
  • इसके बाद आपको सुकन्या समृद्धि योजना फॉर्म अकाउंट को एक्टिव कराना होगा।

ऑफलाइन आवेदन कैसे करें (How to Apply Offline) –

  • ऑफलाइन आवेदन के लिए आप बैंक या पोस्ट ऑफिस में जा सकते हैं।
  • वहां से आपको सुकन्या समृद्धि योजना आवेदन पत्र लेना है।
  • अब इस फॉर्म में पूछे गए विकल्पों को सही-सही भरें।
  • सभी विवरण दर्ज करने के बाद आवश्यक दस्तावेजों को स्व: सत्यापित करें।
  • फॉर्म को चेक करने के बाद उसे बैंक या पोस्ट ऑफिस में जमा कर दें।
  • इसके बाद बैंक में अधिकारियों द्वारा आपके फॉर्म की जांच की जाएगी।
  • फॉर्म चेक करने के बाद आपका अकाउंट सुकन्या समृद्धि योजना के तहत ले लिया जाएगा।
  • इसके बाद आपको अपनी पहली राशि अपनी बच्ची के नाम खाते में जमा करानी होगी।
  • अब आपको बैंक या पोस्ट ऑफिस से पासवर्ड मिल जाएगा।
  • इस प्रकार सुकन्या समृद्धि योजना में आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
Sukanya Samriddhi Yojana Form

सुकन्या समृद्धि योजना कैलकुलेटर कैसे काम करता है?

  • केलकुलेटर में कैलकुलेशन करने के लिए बालिका की आयु और योगदान की जाने वाली राशि प्रदान करनी होती है।
  • योजना के लिए योगदान की न्यूनतम राशि ₹250 है और अधिकतम राशि ₹150000 है।
  • योजना की परिपक्वता अवधि 21 साल है।

परिपक्वता राशि का कैलकुलेशन

  • महीने की 1 तारीख को मासिक योगदान किया जाता है
  • योजना अवधि के 21 वर्षों के दौरान ब्याज दर 7.6% है
  • हर साल वार्षिक योगदान 1 अप्रैल को दिया जाता है

एस एस वाई मैच्योरिटी राशि कैलकुलेटर

SSY में परिपक्वता राशि का कैलकुलेशन करने के लिए यूज़ किया जाने वाला फार्मूला निम्न प्रकार है –
A = P (1 + r/ n) ^ nt
A = चक्रवृद्धि ब्याज
P = मूल राशि
R = ब्याज दर
N = एक वर्ष में ब्याज यौगिकों की संख्या
T= वर्षों की संख्या

सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट कैलकुलेशन

राशि (वार्षिक रुपए में)राशि (14 वर्ष रुपए में)परिपक्वता राशि (21 वर्ष में)
10001400046,821
20002800093,643
5000700002,34,107
100001400004,68,215
200002800009,36,429
5000070000023,41,073
100000140000046,82,146
125000175000058,52,683
150000210000070,23,219

1000 में कैलकुलेशन –

  • मिश्रित ब्याज – 7.6%
  • भुगतान वार्षिक रूप से
  • अवधि – 14 साल
वर्षओपनिंग बैलेंसजमा राशि (रुपए)ब्याज राशि (रुपए) क्लोजिंग बैलेंस (रुपए)
101000841084
2108410001752259
3225910002743533
4353310003814914
545141000 4976410
664101000 6228033
780331000 7599792
897921000 90611698
9116981000 106713765
10137651000 124016005
11160051000 142818433
12184331000163221066
13210661000185423919
14239191000209327012
15270120226929281
16292810246031741
17317410266634407
18344070289037298
19372980313340431
20404310339643827
21438270368147508

परिणाम:

  • कुल जमा राशि – 14000 रु
  • परिपक्वता के बाद राशि – 47508 रु
  • प्राप्त ब्याज – 33508

डिफ़ॉल्ट खाते को पुनर्जीवित करने की प्रक्रिया –

  • डिफ़ॉल्ट खाते को रिवाइव करने के लिए आपको उस बैंक या पोस्ट ऑफिस में जाना होगा जहां वह खाता खोला गया है।
  • आपको अकाउंट दोबारा एक्टिवेट कराने के लिए एक फॉर्म भरना होगा।
  • इसके बाद बकाया राशि का भुगतान करना होगा। उसके लिए न्यूनतम 250 रुपये का भुगतान करना होगा।
  • इस भुगतान के साथ ही हर साल 50 रुपये का जुर्माना भी भरना होगा।
  • मान लीजिए कि खाता 2 साल से संचालित नहीं हुआ है। तो 2 साल के लिए 600 रुपये का भुगतान करना होगा, जिसमें 2 साल के 500 रुपये और 100 रुपये का जुर्माना शामिल है। इस तरह दुबारा से आपका खाता सक्रिय हो जाएगा।

योजना के तहत जो बैंक खाता खोलने के लिए अधिकृत हैं –

  • यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया,
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया,
  • यूको बैंक,
  • सिंडिकेट बैंक,
  • पंजाब नेशनल बैंक,
  • पंजाब एंड सिंध बैंक,
  • इंडियन ओवरीज बैंक,
  • इंडियन बैंक,
  • आईडीबीआई बैंक,
  • आईसीआईसीआई बैंक,
  • सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया,
  • केनरा बैंक,
  • कॉर्पोरेशन बैंक
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र,
  • बैंक ऑफ इंडिया,
  • बैंक ऑफ बड़ौदा,
  • एक्सिस बैंक शामिल है।

सुकन्या समृद्धि योजना के नुकसान (Disadvantages of Sukanya Samriddhi Yojana) –

लंबी अवधि के लिए ब्लॉक निवेश रहता है- सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश करने से पैसा लंबे समय तक ब्लॉक रहता है। इस योजना में, बेटी के 21 वर्ष की आयु प्राप्त करने पर निवेश परिपक्व हो जाता है। वहीं, 18 साल की उम्र पूरी होने पर पढ़ाई के नाम पर 50 फीसदी रकम निकाली जा सकती है. यानी लंबे समय के लिए पैसा ब्लॉक हो जाता है। हालांकि, इक्विटी में यह कोई समस्या नहीं है। निवेशक जरूरत पड़ने पर अपना पैसा निकाल सकता है।

शर्तों की जानकारी नहीं होने पर परेशानी- जानकारों के मुताबिक सुकन्या समृद्धि योजना की शर्तों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। ऐसा न करने पर परेशानी हो सकती है। इस योजना में खाता खोलने के 21 साल पूरे होने से पहले अगर खाताधारक की शादी हो जाती है तो खाते में राशि जमा नहीं की जा सकती है। अगर खाता 21 साल पूरे होने से पहले बंद किया जा रहा है, तो खाताधारक को एक हलफनामा देना होगा कि खाता बंद करने के समय उसकी उम्र 18 साल से कम नहीं है। एक अनियमित सुकन्या समृद्धि योजना खाते में जहां न्यूनतम राशि जमा नहीं की गई है, उसे 50 रुपये प्रति वर्ष का जुर्माना देकर नियमित किया जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न सामान्य प्रश्न –

Q.1 सुकन्या समृद्धि योजना खाता कैसे खोलें?
सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता 10 साल की उम्र से पहले लड़की के जन्म के बाद न्यूनतम 250 रुपये जमा करके खोला जा सकता है। चालू वित्त वर्ष में सुकन्या समृद्धि योजना के तहत अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा किए जा सकते हैं।

Q.2 सुकन्या समृद्धि योजना खाता कहाँ खोला जाएगा?
सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता डाकघर या वाणिज्यिक शाखा की किसी भी अधिकृत शाखा में खोला जा सकता है।

Q.3 सुकन्या समृद्धि योजना खाता कब तक संचालित किया जाएगा?
सुकन्या समृद्धि योजना खाता खोलने के बाद, इसे तब तक चलाया जा सकता है जब तक कि बालिका 21 वर्ष की आयु प्राप्त नहीं कर लेती या 18 वर्ष की आयु के बाद उसकी शादी नहीं हो जाती।

Q.4 सुकन्या समृद्धि योजना का क्या उपयोग है?
बच्चे की उच्च शिक्षा के खर्चे के मामले में 18 वर्ष की आयु के बाद सुकन्या समृद्धि योजना खाते से 50 प्रतिशत तक राशि निकाली जा सकती है।

Q.5 सुकन्या समृद्धि योजना में अकाउंट से समय से पहले पैसे निकाले जा सकते हैं या नहीं?
नहीं सिर्फ 50% तक कुछ पैसे निकालने की इजाजत होती है, और वह भी तब जब बच्ची कम से कम 18 साल की हो जाए उससे पहले नहीं, इस पैसे को सिर्फ लड़की की उच्च शिक्षा या शादी में खर्च करने के लिए ही निकाला जा सकता है।

Q.6 क्या सुकन्या समृद्धि योजना को लोकेशन के आधार पर ट्रांसफर किया जा सकता है?
हां इस योजना को पोस्ट ऑफिस से या एक ऑथराइज्ड बैंक से दूसरे ऑथराइज्ड बैंक में ट्रांसफर किया जा सकता है, यह सुविधा इसलिए दी जाती है क्योंकि ऐसा समय भी आ सकता है, जब लड़की को पढ़ाई या ऐसी किसी अन्य परिस्थितियों कारण जगह बदलनी पड़ सकती है।

Q.7 सुकन्या समृद्धि योजना में कौन कर सकता है निवेश?
सुकन्या समृद्धि खाता माता-पिता द्वारा बेटी के नाम पर खोला जा सकता है। यह खाता बेटी के जन्म से लेकर 10 साल की उम्र तक कभी भी खोला जा सकता है।

Q.8 खाते में जमा की जा सकने वाली न्यूनतम और अधिकतम राशि क्या है?
सुकन्या समृद्धि खाता न्यूनतम 250 रुपये से खोला जा सकता है। एक बार खाता खुल जाने के बाद हर वित्तीय वर्ष में कम से कम 250 रुपये जमा करना जरूरी है। एक वित्तीय वर्ष में सुकन्या खाते में अधिकतम राशि 1.5 लाख रुपये जमा की जा सकती है।

Q.9 सुकन्या समृद्धि कैलकुलेटर कैसे काम करता है?
प्रधान मंत्री सुकन्या समृद्धि योजना 7.6% ब्याज दर प्रदान करती है। इसकी परिपक्वता 21 वर्ष तक है, योजना के सुचारू संचालन के लिए 14 योजना वर्षों के पूरा होने तक व्यक्तियों के लिए एक वर्ष में न्यूनतम एक योगदान करना महत्वपूर्ण है।

सुकन्या समृद्धि कैलकुलेटर का सुत्र
A = P (1 + r/ n) ^ nt
A = चक्रवृद्धि ब्याज
P = मूल राशि
R = ब्याज दर
N = एक वर्ष में ब्याज यौगिकों की संख्या
T= वर्षों की संख्या

दोस्तों आज हमने sukanya samriddhi yojana in hindi में सुकन्या समृद्धि योजना की पूरी जानकारी दी हैं, आशा करतें हैं आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी, दोस्तों इसे आगे भी शेयर करना, क्यूकी आज भी गावों में बहुत से लोग ऐसे हैं जिन्हे इस योजना के बारे में अभी तक कोई पता नही हैं, और अगर पता भी है तो इसका लाभ कैसे उठाएँ ये टा नही हैं, इसलिए हमने आज इस पोस्ट को लिखा है, ताकि देश का हर एक नागरिक इस योजना का लाभ उठा सके, इसी तरह ज्ञांवर्धक टॉपिक्स पढ़ने के लिए आप रोज़ हमारी वेबसाइट पर विज़िट कर सकते हैं

Leave a Comment

Your email address will not be published.